Collect

FoCarts

Explore all collections | Books | Fusion | Artisans 

Sustainable development program | Services 

अंगिका लोकसाहित्य और मंजूषा लोककला

 250

Author: Dr. Amrendra
Presenter: Vasundhara
Publisher: Sameeksha Prakashan, Muzaffarpur
Year: 2020 | Pages: 112 | Cover: Hardbound
Language: Hindi

 


Warning: Undefined array key "enable_rtb_widget" in /home/kc973a2pji2z/public_html/wp-content/plugins/woo-razorpay/woo-razorpay.php on line 2947

Description

भागलपुर के ख्यातिलब्ध साहित्यकार और संस्कृतिकर्मी डॉ. अमरेंद्र द्वारा लिखित पुस्तक अंगिका लोकसाहित्य और मंजूषा लोककला समयांतर में लिखे उनके आलेखों का एक महत्वपूर्ण संग्रह है जिसमें अंगिका साहित्य और उसके व्याकरण के साथ-साथ मंजूषा चित्रकला पर महत्वपूर्ण टिप्पणी की गयी है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “अंगिका लोकसाहित्य और मंजूषा लोककला”
Receive the latest updates

GET IN TOUCH

Folkartopedia is the leading resource of knowledge on folk art and expression in India. Stay connected.