Welcome to folkartopedia archives.

What are you looking for in the Archives?

Angika stories

नैहर, न्यौछावर और नागराज: लोकगाथा बिहुला-विषहरी की उपकथा – दो

‘बिहुला-विषहरी’ का काल संस्कृतियों के विलयन का काल था। अंग क्षेत्र में वह कितना सहज था, उसकी अभिव्यक्ति इस लोककथा में है: मीरा झा, अंगिका साहित्यकार, भागलपुर।

Read More »

नाग से विवाह: लोकगाथा बिहुला-विषहरी की उपकथा – एक

‘नाग से विवाह’ लोकगाथा बिहुला-विषहरी की अनेक उपकथाओं में से एक है। इसमें नागों का जनजातीय स्वरूप और उसका प्राकृतिक स्वभाव, दोनों साथ प्रत्यक्ष होता है।

Read More »
Receive the latest update

Subscribe To Our Weekly Newsletter

Get notified about new articles